पुलिस के मुताबिक, आरोपी यश राय उर्फ चिंटू दिल्ली के दो पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में आरोपित है। इस मामले में वह तीन साल तक तिहाड़ जेल में काट चुका है।

वर्ष 2001 में संसद पर हुए आतंकी हमले में शहीद की नाबालिग बेटी को अगवा कर दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर किशोरी को भी बरामद कर लिया है। इस मामले में परिजनों की शिकायत पर इलाहाबाद हाई कोर्ट और डीजीपी ने जांच अधिकारी को तलब किया था। गिरफ्तार आरोपित दिल्ली पुलिस के दो सिपाहियों की हत्या के आरोप में पहले भी जेल जा चुका है।

इंदिरापुरम थाना प्रभारी सचिन मलिक ने बताया कि आरोपित युवक को शुक्रवार दोपहर वैशाली मेट्रो स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया। उसकी पहचान यश राय उर्फ चिंटू (27) के रूप में हुई है। चिंटू बीती 27 जनवरी को 11वीं कक्षा में पढ़ने वाली 16 वर्षीय छात्रा को फुसलाकर ले गया था। कई माह तक वह छात्रा को लेकर घूमता रहा। बाद में छात्रा को वैशाली सेक्टर-5 स्थित अलकनंदा अपार्टमेंट में किराये के फ्लैट में रखा।

इस दौरान उसके साथ दुष्कर्म भी किया। किशोरी के लापता होने पर परिजनों ने इंदिरापुरम थाने में अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। किशोरी के बरामद ने होने पर परिजनों ने इलाहाबाद हाई कोर्ट में रिट दायर की थी, जिस पर दो अगस्त को इंदिरापुरम पुलिस को तलब किया था। परिजनों ने डीजीपी को भी पत्र लिखा था।

14 अगस्त को डीजीपी ने जांच अधिकारी को लखनऊ तलब किया था। इंदिरापुरम पुलिस के मुताबिक, गिरफ्तार आरोपित यश राय उर्फ चिंटू दिल्ली के दो पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में आरोपित है। इस मामले में वह तीन साल चार माह तक तिहाड़ जेल में काट चुका है। फिलहाल जमानत पर चल रहा था। अब किशोरी को अगवा कर दुष्कर्म के आरोप में पुलिस शनिवार को उसे दोबारा जेल भेजेगी। किशोरी को लेकर वह दिल्ली, हरियाणा, उत्तराखंड और राजस्थान लेकर घूमता रहा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here