सरदार पटेल की जयंती के अवसर पर देश की राजधानी नई दिल्ली में आयोजित रन फॉर यूनिटी के दौरान भाजपा सांसद द्वारा बिहारियों को अपमानित और गाली गलौज करने का मामला प्रकाश में आया है। स्थानीय अखबारों में प्रकाशित खबरों के अनुसार कार्यक्रम में बीजेपी कार्यकर्ताओं के दो समूहों में झड़प हो गई। एक समूह ने पार्टी के स्थानीय सांसद रमेश बिधूड़ी के समर्थकों की ओर से ‘दुर्व्यवहार और हमले’ का आरोप लगाया।

सोशल मीडिया पर घटना का वीडियो सामने आया है, जिसमें दो गुटों में लड़ाई देखी जा सकती है। पीड़ित पक्ष ने मेडिकल जांच करा कर शिकायत दर्ज कराई है। प्रत्यक्षदर्शियों ने दावा किया कि बीजेपी कार्यकर्ताओं के दो समूहों-एक चंदन चौधरी के नेतृत्व में और एक अन्य बिधूड़ी के कथित समर्थकों के बीच संगम विहार में मंच साझा करने को लेकर विवाद हो गया। चौधरी ने दावा किया, ‘बिधूड़ी के समर्थकों ने हमें अपमानित किया और हमें मंच से हटा दिया।’ बीजेपी की दिल्ली प्रदेश इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि इस घटना की जांच के लिए समिति गठित कर दी गई है और यह समिति दो दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी। इस समूह ने दिल्ली बीजेपी कार्यालय पहुंचकर नारे भी लगाए। मनोज तिवारी एक बैठक में शामिल होने के लिए कार्यालय में थे।

बिधूड़ी ने कहा कि जब यह घटना हुई तो उस समय वह मौके पर मौजूद थे। बिधूड़ी ने कहा, ‘यह सब मेरे खिलाफ एक राजनीतिक षडयंत्र है। मैं पहले भी संपत्ति से संबंधित किसी मामले, जिसमें वह एक बिल्डर के रूप में शामिल है, को लेकर चंदन चौधरी के खिलाफ पार्टी में शिकायत कर चुका हूं।’ चंदन चौधरी ने हालांकि आरोप लगाया कि बिधूड़ी और उसके समर्थकों ने उनका अपमान किया और हमला किया। उन्होंने कहा, ‘कार्यक्रम चल रहा था और जिला अध्यक्ष भाषण दे रहे थे कि इसी दौरान बिधूड़ी और उनके समर्थक आए और मंच पर मौजूद लोगों को गाली देना शुरू कर दिया। जब मैंने इसका विरोध किया तो उन्होंने मुझे गाली दी और मुझ पर हमला किया।’

मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले को शांत किया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। हालांकि पीड़ित चंदन चौधरी का आरोप है कि दक्षिणी दिल्ली सांसद रमेश बिधूड़ी के कार्यकर्ताओं ने ये मारपीट की है लेकिन फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है। दूसरी ओर इस घटना के बाद से राजनीति शुरू हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here