गोवा कांग्रेस के नेता गिरीश चोडणकर ने पत्रकारों से कहा कि मैं पूरे भरोसे के साथ कह सकता हूं कि पर्रिकर के पास राफेल डील से संबंधित बहुत सारी सूचनाएं होंगी क्योंकि उनके रक्षा मंत्री रहते हुए ही फ्रांस के साथ यह सौदा किया गया था

कांग्रेस ने दावा किया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का इस्तीफा मांगने की हिम्मत नहीं कर सकते हैं. कांग्रेस का कहना है कि पर्रिकर के पास राफेल डील की जानकारियाँ हैं, जिनके जरिए वह मोदी और शाह को ‘ब्लैकमेल’ कर सकते हैं और यही वजह कि उन्हें कोई मुख्यमंत्री की कुर्सी से हिला नहीं सकता है.

गोवा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गिरीश चोडणकर ने यह आरोप ऐसे समय लगाया है जब भाजपा नेतृत्व ने यह घोषणा की है कि पर्रिकर गोवा सरकार का नेतृत्व करते रहेंगे. जबकि इस तरह की अटकलें लगाई जा रही थीं कि सेहत खराब होने के बाद पर्रिकर की जगह किसी अन्य शख्स को गोवा की कमान सौंपी जा सकती है.

गिरीश चोडणकर ने पत्रकारों से कहा, ‘मैं पूरे भरोसे के साथ कह सकता हूं कि पर्रिकर के पास राफेल डील से संबंधित बहुत सारी सूचनाएं होंगी क्योंकि उनके रक्षामंत्री रहते हुए ही फ्रांस के साथ यह सौदा किया गया था.’  चोडणकर का दावा है कि पर्रिकर का इस्तीफा मांगने के लिए मोदी और शाह में साहस नहीं है क्योंकि राफेल डील की वजह से सब लोग उनसे डरते हैं.

गौरतलब है कि लंबे समय से बीमार चल रहे पूर्व रक्षा मंत्री और गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को शनिवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया. उनकी बिगड़ती तबीयत को देखते हुए यह अटकलें लगाई जा रही थीं कि राज्य में उनकी जगह किसी अन्य को नया मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है.

बता दें कि गोवा में गठबंधन की सरकार बनाने के लिए कांग्रेस ने अपने सारे दरवाजे खोल दिए हैं. कांग्रेस विधायकों ने अभी हाल में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने के लिए ज्ञापन दिया था. कांग्रेस हालांकि बार-बार यह बात दोहरा रही है कि उसके पास विधायकों की पर्याप्त संख्या है लेकिन उसे इस बात का भी डर है कि कहीं उसके विधायक भाजपा के झांसे में आकर ‘खरीद-फरोख्त’ का शिकार न हो जाएं.

साभार -आज तक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here